Tuesday, March 05, 2024
Follow us on
-
गुरुग्राम
प्रतिष्ठित साहित्यकारों ने अनेक विधाओं में रचित रचनाओं द्वारा बांधा समां

अहं ब्रह्मास्मि-नव उद्घोष' के तत्वावधान में शानदार कार्यक्रम का आयोजन!!!

नव सृजित संस्था 'अहम् ब्रह्मास्मि-नव उद्घोष' का उद्घाटन गुरुग्राम में शानदार तरीके से हुआ

 स्था की राष्ट्रीय संयोजक सीमा सिन्हा मैत्री ने धन्यवाद ज्ञापन करते हुए वहां उपस्थित सभी का आभार प्रकट किया।
कार्यक्रम का समापन स्वादिष्ट जलपान के द्वारा हुआ।

विश्लेषण : भाजपा की फूट और कांग्रेस की एकजुटता से शिमला में मुरझाया कमल का फूल
 नगर निगम चुनाव कांग्रेस की झोली में डलवा सुक्खू  ने कांग्रेस हाई कमान में मनवाया लोहा
 
अनिल श्रीवास्तव का लघुकथा संग्रह 'मोह के धागे' लोकार्पित

डा. अग्रवाल ने संस्था व अतिथिगण का संक्षिप्त परिचय देते हुए शाब्दिक स्वागत किया I उन्होंने अनिल श्रीवास्तव को संग्रह के लिए साधुवाद दिया I

कुछ मैं कहूँ, कुछ तुम सुनो एवम् 'ख्वाबों की खुरचन' सुप्रसिद्ध साहित्यकार लक्ष्मी शंकर बाजपेई एवम विश्व ख्याति प्राप्त कवि दिनेश रघुवंशी द्वारा लोकार्पण

दीपशिखा दीप ने - " गुमशुदा है इंसान,तलाश अभी बाकी है,
सुना है बुत मे है भगवान,तराश अभी बाकी है। " पंक्तियाँ पढ़ीं तो सम्पूर्ण हाल तालियों की गड़गड़ाहट से गुंजायमान हो गया

-
-
-
Total Visitor : 1,62,91,298
Copyright © 2017, Himalayan Update, All rights reserved. Terms & Conditions Privacy Policy