Friday, May 24, 2024
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
उपायुक्त एवं पुलिस अधीक्षक ने अर्की विधानसभा क्षेत्र के संवेदनशील मतदान केंद्रों का किया निरीक्षणपीठासीन और सहायक पीठासीन कर्मियों के लिए दूसरे चरण की कार्यशाला सम्पन्नपंचायती राज विभाग की शान है ऐसे कर्मचारी, चौपाल पंचायती राज विभाग में बतौर सचिव के पद पर तैनात नरेंद्र पांटा की मिसाल एक ईमानदार कर्मचारी के तौर पर दी जाती हैप्रदेश निर्वाचन आईकॉन जसप्रीत पाल चंबा में साइकलिंग द्वारा करेंगे मतदाताओं को जागरूक  - मुकेश रेपसवालराष्ट्रीय सुरक्षा को ताक पर रखने का कार्य कर रहा इंडी गठबंधन : सुरेश कश्यपजिला चंबा में अब्सेंटी वोटर श्रेणी के 695 मतदाताओं ने किया मतदान-मुकेश रेपसवाल।भगवान बुद्ध की शिक्षाएं आज और भी अधिक प्रासंगिक: राज्यपाल चुनाव आयोग के दिशा निर्देशों और नियमों का पालन करने में न बरतें कोताही- तोरुल एस रवीश
-
कारोबार

एसजेवीएन ने आरई एवं धर्मल परियोजनाओं के लिए 1,18,000 करोड़ रुपए वित्तपोषण हेतु पीएफसी के साथ एमओयू हस्ताक्षरित

-
Bureau Himalayan update 7018631199 | September 20, 2023 07:17 PM

 

 

शिमला,

नन्द लाल शर्माअध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशकएसजेवीएन ने बताया कि एसजेवीएन के विविध परियोजना पोर्टफोलियो के वित्तपोषणार्थ एसजेवीएन ने पावर फाइनेंस कॉरपोरेशन (पीएफसी) के साथ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं।

नन्द लाल शर्मा ने कहा कि पीएफसी ने लगभग 1,18,826 करोड़ रुपए की कुल परियोजना लागत पर स्थापित होने वाली एसजेवीएन की नवीकरणीय परियोजनाओं सौरजल विदयुत और पंप भंडारण एवं थर्मल परियोजनाओं को वितपोषित करने पर सहमति व्यक्त की है। परियोजना लागत के 70% पर सावधि ऋण वित्तीय सहायता अस्थायी रूप से प्रस्तावित हैजिसे परियोजना आवश्यकताओं के अनुसार नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाओं के लिए बढ़ाया जा सकता है। नन्द लाल शर्मा अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशकएसजेवीएन और पीएफसी के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक परमिंदर चोपड़ा की गरिमामयी उपस्थिती में अखिलेश्वर सिंह निदेशक (वित्त) एसजेवीएन और मनोज शर्मानिदेशक (वाणिज्यिक) पीएफसी द्वारा एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। एमओयू पर हस्ताक्षर के दौरान गीता कपूर निदेशक (कार्मिक) एसजेवीएन एवं पीएफसी के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित रहे ।

हाल ही मेंएसजेवीएन ने नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाओं के विकास के लिए अन्य विद्युत सीपीएसई के साथ विभिन्न समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए हैं। इससे नवीकरणीय ऊर्जा क्षेत्र में एसजेवीएन की उपस्थिती और मजबूत होंगी और वर्ष 2030 तक गैर-जीवाश्म ईंधन स्रोतों से 50 प्रतिशत स्थापित क्षमता के भारत सरकार के लक्ष्य को प्राप्त करने में सहायता मिलेगी। यह कंपनी के वर्ष 2026 तक 12000 मेगावाट के नए मिशन और वर्ष 2040 तक 50,000 मेगावाट की स्थापित क्षमता के महत्वाकांक्षी साझा विजन को प्राप्त करने में सहायक होगा ।

-
-
Have something to say? Post your comment
-
और कारोबार खबरें
न्यू इंडिया एश्योरेंस कंपनी लिमिटेड (एक अग्रणी साधारण बीमा कंपनी) और हिमाचल प्रदेश राज्य सहकारी बैंक लिमिटेड (क्षेत्र का एक स्थापित क्षेत्रीय बैंक) ने एक समझौते के अनुसार हस्ताक्षर किए। लॉर्ड्स मार्क बायोटेक ने सोरायसिस के इलाज के लिए लॉन्च किया टाइनेफकॉन https://youtu.be/6KPTCKm_shQ नवरात्रों में फीका रहा पर्यटन कारोबार, 30 फीसदी रही ऑक्यूपेंसी, पर्यटन कारोबारी परेशान उपतहसील निथर के ग्वाल गांव में लोगों ने जानी कांगड़ा बैंक की वितीय डिजिटल सुविधा उत्तराखंड के मोरी में 60 मेगावाट की नैटवाड़ मोरी जलविद्युत परियोजना की प्रथम यूनिट की मैकेनिकल स्पिनिंग की शुरुआत रामपुर एचपीएस द्वारा 31 अगस्त को 337.1653 मिलियन यूनिट बिजली उत्पादन का अब तक का सर्वश्रेष्ठ मासिंक कीर्तिमान बैंको की कुल जमा राशि में 9847 करोड़ रुपये की और अग्रिम में रु. 4269 करोड़ की वृद्धि;राजेंद्र कुमार साबू राज्य सहकारी बैंक ने वित वर्ष में जमाधन में की 10.68 प्रतिशत की बढ़ौतरी : देवेंद्र श्याम यूको आरसेटी शिमला देगा मोमबत्ती बनाने का निःशुल्क प्रशिक्षण रामपुर एचपीएस में 73वाँ गणतंत्र दिवस समारोह विधीवत हर्षोल्लास से मनाया
-
-
Total Visitor : 1,65,30,505
Copyright © 2017, Himalayan Update, All rights reserved. Terms & Conditions Privacy Policy