Tuesday, April 23, 2024
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक आदर्श विद्यालय तकलेच में विश्व पृथ्वी दिवस के उपलक्ष में विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया गया।आबकारी विभाग ने 6805 लीटर अवैध शराब बरामद कीराज्यपाल ने परवाणु में जल जनित रोगों की रोकथाम एवं नियंत्रण संबंधी उपायों की समीक्षा कीप्रदेश में क़ानून व्यवस्था की स्थिति लचर, महिलाओं पर बढ़ रहे अपराध के मामले : डॉ सीमा ठाकुर सरकार उठाएगी पीड़ित बिटिया के इलाज का पूरा खर्च : मुख्यमंत्रीराज्यपाल ने परवाणु में जल जनित रोगों की रोकथाम एवं नियंत्रण संबंधी उपायों की समीक्षा कीसीएम के सुजानपुर दौरे ने भरा कार्यकर्ताओं में जोश , एकजुटता देख सुक्खू का खिला चेहरा मेरा वोट मेरा भविष्य" थीम पर 28 अप्रैल को आयोजित होगी साइकिल रैली
-
राज्य

चुनावी बॉन्ड पर विपक्षी दल परेशान : नंदा

-
ब्यूरो हिमालयन अपडेट | March 18, 2024 08:20 PM
 
 
शिमला,
 
चुनाव आयोग की वेबसाइट पर चुनावी बॉन्ड डेटा के प्रकाशन पर विपक्ष के हंगामे के बीच भाजपा ने अब पलटवार किया है। भाजपा मीडिया प्रभारी कर्ण नंदा ने कहा कि कुल 20 हजार करोड़ रुपये के चुनावी बॉन्ड में से भाजपा को तो 6000 करोड़ का चंदा दिया गया है, जबकि बाकी विपक्षी पार्टियों को मिला है। नंदा ने कहा, "कुल 20000 करोड़ रुपये के चुनावी बॉन्ड में से 6000 करोड़ रुपये के बॉन्ड बीजेपी के पास गए हैं, जबकि 14000 करोड़ रुपये के बॉन्ड विपक्ष के पास गए हैं। हर कोई जवाबदेह है और सुप्रीम कोर्ट का फैसला सभी के लिए समान रूप से लागू होगा। चुनावी बॉन्ड को लाने के बारे में बोलते हुए कर्ण नंदा ने कहा कि इन बॉन्ड के तहत राजनीतिक दलों को दान किए गए धन का हिसाब-किताब किया जाता है, क्योंकि वे बैंकों और कंपनी के अकाउंट्स के माध्यम से सामने आ जाते हैं। भाजपा ने कहा कि चुनावी बॉन्ड योजना इसलिए शुरू की गई थी, ताकि नकदी के माध्यम से भ्रष्टाचार को रोका जा सके। आज, पैसा बैंकों और कंपनियों के अकाउंट्स के माध्यम से आते हैं। पहले, यह सारा पैसा नकद में आता था। यह काला धन था। 
वहीं, डीएमके को इलेक्टोरल बॉन्ड के माध्यम से 656.5 करोड़ रुपए मिले, जिसमें लॉटरी किंग सैंटियागो मार्टिन के फ्यूचर गेमिंग से 509 करोड़ रुपए भी शामिल हैं। देश की मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस जीकी देश में 33 लोक सभा सीटें है ने 1,334.35 करोड़ रुपए के इलेक्टोरल बॉन्ड कैश कराए हैं। इसके अलावा ओडिशा की सत्ताधारी बीजेडी को 944.5 करोड़ रुपए इलेक्टोरल बॉन्ड के जरिए मिले हैं। वहीं आंध्र की सत्ताधारी पार्टी टीडीपी को 181.35 करोड़ रुपए का चंदा मिला है। गौरतलब है कि लॉटरी किंग के नाम से मशहूर फ्यूचर गेमिंग एंड होटल्स के फाउंडर का नाम सैंटियागो मार्टिन है। 
 
उन्होंने कहा कि हम आम आदमी पार्टी के नेताओं से पूछना चाहते हैं कि आपको चुनावी बॉन्ड प्राप्त नहीं हुआ क्या आपने सारा पैसा कैश में लिया, आपके पास जो पैसा है शायद वह ब्लैक मनी तो नही।
-
-
Have something to say? Post your comment
-
और राज्य खबरें
बैसाखी पर्व का इतिहास और महत्व: डॉ विनोद नाथ लोक सभा चुनाव का आगाज, भाजपा ने लोक सभा चुनावों का बिगुल फूंका राज्यपाल ने किया प्रो. प्रमोद शर्मा की पुस्तक का विमोचन मतदाता सूची में जोड़े जा रहे हैं मतदाताओं के नाम- अपूर्व देवगन सरस्वती नगर महाविद्यालय में युवाओं को मतदान के प्रति किया गया जागरूक आज की बिग ब्रेकिंग फेसबुक हुआ क्रैश प्रधानमंत्री सूर्य घर मुफ्त बिजली योजना का लाभ लेने के लिए डाक विभाग में पंजीकरण करवाएं लाभार्थी विकास खंड हरोली की ग्राम पंचायत छेत्रां के गांव बीदरवाल में खोली जाएंगी उचित मूल्य की दुकान सरकार गांव के द्वार’ कार्यक्रम 27 जनवरी को अर्की विधानसभा क्षेत्र के कुनिहार में होगा आयोजित संजय अवस्थी करेंगे अध्यक्षता विक्रमादित्य सिंह ने विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली विभूतियों को किया सम्मानित
-
-
Total Visitor : 1,64,62,509
Copyright © 2017, Himalayan Update, All rights reserved. Terms & Conditions Privacy Policy