Friday, July 19, 2024
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
बिंदल का दावा कांग्रेस ने देश को अंग्रेजो से भी ज्यादा नुकसान पहुंचाया हैश्रीखंड मे बहेगी ज्ञान गंगा शिमला के आचार्य राकेश भारद्वाज करेंगे प्रवचन 20 जुलाई से 27 जुलाई  तक होगा आयोजनशिक्षा मंत्री ने किया रामनगर विद्यालय भवन का लोकार्पणउपायुक्त मुकेश रेपसवाल की अध्यक्षता में पीएसीएस की बैठक आयोजितगर्मी में बार-बार की बिजली कटौती से लोग परेशान, प्रभावित हो रहे काम काजबड़सर के नशा मुक्ति केंद्र में 25 वर्षीय युवक की हत्या के बाद फरार आरोपी तुषार ने किया पुलिस स्टेशन में आत्मसमर्पण रक्षा बंधन को आना था घर लेकिन जम्मू के अखनूर में हमीरपुर के 23 साल के अग्रिवीर  की संदिग्ध मौत स्वतंत्रता दिवस की अवसर पर लोकसभा चुनावों के दौरान सराहनीय कार्यों के लिए कर्मचारियों को किया जाएगा सम्मानित
-
कर्मचारी

परियोजना प्रबंधन से खफा कॉन्ट्रेक्ट वर्कर्स यूनियन

-
हिमालयन अपडेट ब्यूरो | March 07, 2019 07:01 PM

 

रामपुर बुशहर, 

412 मेगावाट रामपुर हाइड्रो प्रोजेक्ट पावर स्टेशन कॉन्ट्रेक्ट वर्कर्स यूनियन परियोजना प्रबंधन से खासे खफा चल रहे है। प्रबंधन को सौंपे मांग पत्र पर बातचीत न करने पर विरोध जताते हुए गुरूवार को मजदूरों ने सीटू के बेनर तले बायल, परियोजना पावर हाउस, दत्तनगर व झाकड़ी में रैली निकाली। रैली को सम्बोधित करते हुए सीटू जिला शिमला कमेटी अध्यक्ष बिहारी सेवगी व यूनियन के सचिव रिंकू राम ने कहा कि 412 मैगावाट प्रबंधक वर्ग व ठेकेदारों को यूनियन के द्वारा अपनी मांगों को लेकर 14 सूत्रीय मांग पत्र सौंपा था। जिसमें परियोजना के मजदूरों के लिए प्रमोशन पालिसी बनाई जाने, मजदूरों के लिए रेगुलर स्टाफ की तर्ज पर जूते बर्दी के लिए भत्ता दिये जाने, हर वर्ष मजदूरों के वेतन में वार्षिक इंक्रीमिंट लगाए जाने, रेगुलर स्टाफ की तर्ज पर मजदूरों के लिए बसें निरमंड और कोयल से बायल के लिए लगाने व मजदूरों को ट्रेड लगाना आदि मुख्य मांगे शामिल थी। लेकिन प्रबंधक वर्ग के द्वारा मजदूरों के द्वारा दिये मांग पत्र पर बातचीत की कोई पहल ही नही की जा रही है। उलटा परियोजना प्रबंधन द्वारा यूनियन के शीर्ष नेतृत्व को डराने का प्रयास किया जा रहा है।

 

सीटू नेताओं ने कहा कि इस प्रोजेक्ट में ठेका मजदूर पिछले 11 -12 सालों से काम कर रहे हैं परन्तु उन्हें अभी तक कोई प्रोमोशन नहीं दिया गया है और न ही न्यूनतम वेतन के अलावा कोई सालाना इंक्रीमेंट मजदूरों को दिया गया है। जबकि प्रोजेक्ट का पूरा काम कॉन्ट्रैक्ट वरकर्स के द्वारा किया जा रहा है। फिर भी परियोजना द्वारा मजदूरों का शोषण किया जा रहा है। यूनियन ने कहा कि यदि प्रबन्धक वर्ग के द्वारा मजदूरों की मांगों को अनदेखा किया गया तो आने वाले समय में मजदूर उग्र आंदोलन पर उतारू हो जाएगें। इस मौके पर राजकुमार, हेम राज, पुष्प राम, घनश्याम, आभे राम, पवन शर्मा, शेर सिंह, दुर्वासा, शीला, सुरजीत, बालकृष्ण, भूप सिंह, खेम राज, लोकेश, कला देवी, संतोष, पुष्पा, सरोज, तिलक राज, सेवा दासी, शीला, राम लाल, बलविंदर के अलावा कई अन्य मजदूर मौजूद रहे।

 

 

 

 

-
-
Have something to say? Post your comment
-
और कर्मचारी खबरें
आरती गुप्ता को पदोन्ति, होंगी I&PR की निदेशक 108 और 102 आपातकालीन एंबुलेंस सेवा के लगभग 1800 कर्मचारी सोमवार को जिला उपायक्तों के माध्यम से नियुतम वेतन को लेकर देंगे ज्ञापन । कैबिनेट सब कमेटी के निर्णय से जगी JOA-IT सहित अन्य पोस्ट कोड आस कर्मचारी एरियर भुगतान के आज तक के इतिहास में अजीबोगरीब अधिसूचना ; हेमराज ठाकुर हिन्दी और संस्कृत अध्यापकों को टी जी टी पदनाम प्रदान करने के बावजूद भी सी0 एण्ड वी0 अध्यापक की श्रेणी में रखना न्याय संगत नहीं; हेमराज ठाकुर आईजीएमसी सुरक्षा कर्मियों ने ठप्प किया काम हिमाचल प्रदेश भवन एवं अन्य निर्माण इंटक यूनियन द्वारा चुने गए नवनिर्वाचित सदस्य आऊटर सराज जेसीबी यूनियन के प्रधान बनें रफ्तार ठाकुर पत्रकार को मातृ शोक अगर नहीं हुई बहाली तो कोर्ट ही रास्ता
-
-
Total Visitor : 1,66,51,431
Copyright © 2017, Himalayan Update, All rights reserved. Terms & Conditions Privacy Policy